Relay क्या है कैसे काम करती है और ये कितने प्रकार का होती है, कार्य विधि?

                 Relay in Hindi


Relay एक electronic switch के समान होता है "relay एक electronic device है। जिसकी मदद से हम किसी भी circuit को on/off करा सकते हैं" relay में एक विद्युत चुंबक होता है जो कि किसी power source से जुड़ा होता है तथा विद्युत चुंबक की सहायता से किसी अन्य एक या एक से अधिक circuits को on या off कराया जा सकता है

           Working principal of relay
Relay क्या है कैसे काम करत है और ये कितने प्रकार का होता है?
Relay एक electromagnetic circuit होता है relay में एक electromagnetic coil और movable arrangement होता है जब relay के अंदर स्थिर magnet को power दी जाती है तो वह movable arrangement को अपनी ओर खींच लेती है जिससे कि Normally open circuit, Normally close हो जाता है।
Normally closed circuit, Normally open हो जाता है।


                  Types of relay

1-SPST
2-SPDT
3-DPST
4-CPDT

                   RELAY के coil के प्रकार

1-5v  Dc coil
2-12v Dc coil
3-24v Dc coil
4-110v Ac coil
5-220v Ac coil

                   Some examples of relay

Latching Relay
Force-Guided Contacts Relay
Multi-Voltage Relays
Time Delay Relay
Vacuum Relays
Polarized Relay
Machine Tool Relay
Mercury-Wetted Relay
Safety RelaysCoaxial
RelaySolid-State
RelayStatic Relay
Mercury Relay
Overload Protection Relay

               Parts of relay and working
Relay क्या है कैसे काम करत है और ये कितने प्रकार का होता है?
Railway में बेसिक 5 भाग होते हैं relay के fast switching करने के लिए उसके parts का सही से काम करना आवश्यक होता है
चलिए आपको बताते हैं कि relay में कौन-कौन से components का प्रयोग किया जाता है

1-coil
2-yoke
3-contact
4-armature
5-spring

1-coil- relay की coil को जब supply दी जाती है तो वह armature को अपनी ओर खींचती है तथा nc को no कर देती है

2-yoke-relay के बाहरी प्लास्टिक के भाग को योग कहते हैं

3-contact- contract का प्रयोग no,nc के समय स्विचिंग में होता है

4-armature- Armature,relay के अंदर common terminal से जुड़ा होता है तथा जब coil में सप्लाई नहीं होती है तो यह nc से जुड़ा होता है तथा जब  coil में सप्लाई दी जाती है तब no से जुड़ जाता है तथा इससे nc कर देता है

क्या आप टेक्निकल इंटरव्यू में पूछे जाने वाले सवालों से परेशान है  टेक्निकल इंटरव्यू में पूछे जाने वाले Question की तैयारी के लिए 

Industrial Skills Training Program

5-spring-
relay के अंदर spring का अपना अलग स्थान होता है जब relay की coil को सप्लाई मिल रही होती है तो armature,no से जुड़ा होता है तथा coil की सप्लाई कटने के बाद spring, armature को खींचकर nc से जोड़ देती है
Relay क्या है कैसे काम करती है और ये कितने प्रकार का होती है, कार्य विधि? Relay क्या है कैसे काम करती है और ये कितने प्रकार का होती है, कार्य विधि? Reviewed by Indrajeet Saini on April 17, 2019 Rating: 5

No comments:

Thank you for comment

Powered by Blogger.