Inverter क्या है, ये कितने प्रकार के होते हैं। inverter wiring connection hindi । inverter working in hindi । types

Inverter in Hindi, inverter wiring connection in hindi

inverter in hindi की post में आपका most welcome है। आज की post में आप जानेंगे की Inverters Kya Hai, inverter kaise kaam krta hai, inverter wiring connection in hindi  यदि आप  Inverter खरीदने के बारे में सोच रहे हैं। और Inverter Ki Jankari प्राप्त करना चाह रहे है।

तो आप सही article पढ़ रहे है। इस article के द्वारा आपको हम inverter की पूरी information देंगे।

Inverter kya hota hai

Inverter- inverter एक ऐसा उपकरण(device)  है जो DC current को AC current में बदल(change) कर देता है. इसके लिए कुछ electronic components को जोड़कर circuit बनाया जाता है. जो कि DC current को AC current में बदल देते हैं


न्हें भी पढ़ें ⤵


जब तक  आप की main supply on रहती है तब तक आपके inverter की बैटरी चार्ज होती रहती है अगर फुल है तो charging. Stop रहेगी
और आपका inverter MAIN को Bypass करके direct output  देता है. जिससे कि inverter का DC To AC converter work नहीं कर सकता. और जैसे ही  के inverter की MAIN बंद होती है।

वह battary से power लेता है और उसे DC To AC convert करता है इसीलिए जब आपके घर की power supply बंद होती है तो inverter हल्का झटका देता है इसीलिए हम इसे computer पर इस्तेमाल नहीं कर सकते क्योंकि एक हल्का झटका ही हमारे  computer को बंद कर सकता है और हमारी window को Corrupt  कर सकता है।

Parts of inverter in hindi
1-battary
2-ups

1) Battery – inverter में battary का क्या काम है?

Battary किसी भी inverter का power source होता है। inverter से आपको जो output बिजली मिलती है
 उसके लिए जरूरी उर्जा battary से ही ली जाती है। आपको अपने घर के load के हिसाब से जरूरी ampire का battery खरीदना होता है।

2) UPS (Inverter) – इन्वर्टर में UPS का क्या work है?

UPS का full form “Uninterruptible Power Supply” होता है
इसका काम bettary के DC करंट को AC power supply में change होता है। और AC current को DC current में बदलना होता है।

Easy words में कहें तो, ups का काम electricity के अनुपस्थिति में battary के सप्लाई को बिजली सप्लाई (ac current) में बदलने और electric supply से उसी battary को चार्ज करने का होता है।
 आपके battary के ampire के हिसाब से ups खरीदना होता है।


Types of inverter in hindi– इन्वर्टर कितने प्रकार के होते हैं?

दोस्तों हर machine या device में हम अपनी जरूरत के हिसाब से उसमें कुछ change करते हैं तथा इन changes के कारण ही कोई भी machine या device को अलग अलग प्रकार दिया जाता है
inverter भी 2 प्रकार के होते हैं जिनके बारे में हम नीचे बताने जा रहे हैं।


1) Electricity Power Inverter in Hindi 


कुछ inverter में battery को charge करने के लिए हम बिजली के main supply का उपयोग करते हैं उसे power inverter कहा जाता है। Power Inverter भी निम्नलिखित 2 प्रकार का होता है…


Pure Sine Wave Inverter in Hindi – क्या है?


 Pure Sine Wave Inverter में high quality का और बहुत सारे प्रकार के circuit  लगाया जाता है जिस वजह से modified वाले inverter से थोड़ा महंगा होता है।
 लेकिन इस inverter में जो extra circuit लगाये जाते हैं उसकी वजह से इसकी work efficiency बहुत ही बेहतरीन होती है और काम करने के दौरान ये कम-से-कम ऊर्जा की खपत करता है।

I) Modified Sine Wave Inverter in Hindi

 Modified Sine Wave Inverter एक simple inverter होता है जिसमें कम सर्किट लगा होता है जिस वजह से ये सस्ता होता है।
लेकिन कम सर्किट इस्तेमाल होने की वजह से ये inverter ज्यादा बिजली और battary की खपत करता है और इसका कार्य-क्षमता भी सही नहीं होता है।



2) Solar Inverter in Hindi – सोलर इन्वर्टर क्या है?


जिस inverter में बैटरी को चार्ज करने के लिए सूर्य की किरणों का उपयोग किया जाता है उसे solar inverter कहा जाता है।

इन्हें भी पढ़ें ⤵


Solar inverter को चार्ज करने के लिए solar plate की जरूरत होती है जो कि बहुत महंगा होता है। यदि आपके एरिया में electricity बहुत ज्यादा समय तक गुल रहती है तो आप solar inverter खरीद सकते हैं
लेकिन इसके लिए आपको ज्यादा पैसे खर्च करने होंगे क्योंकि इसके लिए इस्तेमाल होने वाले solar plate बहुत ही महंगा आता है।

हालाँकि इस inverter के battery को चार्ज करने के लिए आपको बिजली की जरूरत नहीं पड़ती है लेकिन चूँकि solar plate सिर्फ दिन में sun light में ही काम कर सकता है
 इसलिए सोलर solar inverter में आपको मेन electric supply से चार्ज करने का भी विकल्प होता है और यदि आप चाहें तो इसे electricity से भी चार्ज कर सकते हैं।

एक बात का ध्यान रहे कि, solar inverter के लिए अलग से solar inverter और solar battery आता है और हम बिजली वाले inverter या battery  का बिल्कुल भी इस्तेमाल नहीं कर सकते

Working of inverter

Inverter, charging और discharging के नियम पर काम करता है।  inverter या UPS जब बिजली नहीं आती है
तो  वह battery के energy का उपयोग करके उसे ac supply में बदलता है और जब battery आ जाता है तब वो battery को चार्ज करने लग जाता है।


Battery को चार्ज करने के दौरान inverter,output supply को bypass कर देता है। अर्थात charging के दौरान आपके घर का सारा load आपके supply पर चला जाता है
जिससे battary पर load खत्म हो जाता है और वो तेजी से charge होने लगता है और इससे battery की लाइफ भी बढती है।

Inverter के benifites in hindi

Inverter के प्रयोग के निम्नलिखित फायदे हैं


Inverter Noise Free – inverter, generator की तरह noise नहीं करते जिससे कि उसके आसपास रहने वाले किसी भी व्यक्ति को किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होती है


Inverter Support max. Device – inverter अधिकतर Device में Support करते है। हम inverter की मदद से अपने घर के ज्यादातर सभी Electric Device को चला सकते है।

Inverter Takes Less Space – आप Inverter को घर में किसी भी जगह पर लगा सकते है। यह बहुत कम जगह लेते हैं तथा इससे हमें जगह की बचत होती है जो की बहुत अच्छी बात है


Fuel – inverter चलाने के लिए हमें किसी भी तरह के Fuel की जरुरत नहीं होती है। हम आसानी से इसका इस्तेमाल कर सकते है।

बस समय-समय पर inverter की battery में पानी का level चेक करना पड़ता है अगर पानी का level कम हो रहा है तो उसमें हमें distilled water डाल देना चाहये।

इन्हें भी पढ़ें ⤵


आपको Inverter in hindi, inverter connection in hindi की यह पोस्ट कैसी लगी comment box मे comment करके बताये।
Inverter क्या है, ये कितने प्रकार के होते हैं। inverter wiring connection hindi । inverter working in hindi । types Inverter क्या है, ये कितने प्रकार के होते हैं। inverter wiring connection hindi । inverter working in hindi । types Reviewed by Indrajeet Saini on April 12, 2019 Rating: 5

2 comments:

  1. Very nice 👌, inverter ko aak bar use kerneke bat 20/30 din use nahi kernese Kya hota hai yani kharab hojata hai kya,I am wait for your reply immediately please sir.

    ReplyDelete

Thank you for comment

Powered by Blogger.