Featured Posts

[Travel][feat1]

विद्युत धारा क्या है? | Electric current in Hindi

July 19, 2020

Electric Current in Hindi

विद्युत धारा क्या है? | Electric current in Hindi

Electric Current

इस पोस्ट में हम निम्न बिन्दुओं को पढेंगे।
Electric Current in Hindi
What is Electricity in Hindi

विद्युत आवेश के गति या प्रवाह में होने पर उसे विद्युत धारा (इलेक्ट्रिक करेण्ट) कहते हैं। इसकी SI इकाई एम्पीयर है। एक कूलांम प्रति सेकेण्ड की दर से प्रवाहित विद्युत आवेश को एक एम्पीयर धारा कहेंगे।
विद्युत धारा क्या है? | Electric current in Hindi

आवेशों के प्रवाह की दिशा से धारा की दिशा निर्धारित होती है।


परिभाषा

विद्युत धारा क्या है? | Electric current in Hindi

किसी सतह से जाते हुए, जैसे किसी तांबे के चालक के खंड से विद्युत धारा की मात्रा (एम्पीयर में मापी गई) को परिभाषित किया जा सकता है :- विद्युत आवेश की मात्रा जो उस सतह से उतने समय में गुजरी हो। यदि किसी चालक के किसी अनुप्रस्थ काट से Q कूलम्ब का आवेश t समय में निकला; तो औसत धारा
विद्युत धारा क्या है? | Electric current in Hindi

मापन का समय t को शून्य (rending to zero) बनाकर, हमें तत्क्षण धारा i(t) मिलती है :
विद्युत धारा क्या है? | Electric current in Hindi
I = Q / t (यदि धारा समय के साथ अपरिवर्ती हो)
एम्पीयर, जो की विद्युत धारा की SI इकाई है। परिपथों की विद्युत धारा मापने के लिए जिस यंत्र का उपयोग करते हैं उसे एमीटर कहते हैं।

एम्पीयर परिभाषा: किसी विद्युत परिपथ में 1 कूलॉम आवेश 1 सेकण्ड में प्रवाहित होता है तो उस परिपथ में विद्युत धारा का मान 1 एम्पीयर है।

उदाहरण
किसी तार में 10 सेकण्ड में 50 कूलॉम आवेश प्रवाहित होता है तो उस तार में प्रवाहित विद्युत धारा का मान 50 कूलॉम / 10 सेकण्ड = 5 एम्पीयर
विद्युत धारा क्या है? | Electric current in Hindi

ELECTRICITY MEANING IN HINDI

दोस्तों यदि हम Electricity meaning Hindi में एक ही वाकय में समझनेकी कोशिश करे तो conductor में बहने वाली अप्रत्यक्ष एनर्जी को  इलेक्ट्रिसिटी कहते हे। वैसे एनर्जी न तो बनाई जाती हे और नाहीं नष्ट की जाती हे केवल एक रूप से दूसरे रूप में ट्रांसफर की जाती हे।

What is Electricity ?

What is Electricity ?
Electricity

इलेक्ट्रिसिटी को गहराई से समझे तो दुनिया में कोई भी पदार्थ छोटे छोटे अणु  से बना हे। और अणु के छोटे छोटे पार्ट को हम परमाणु कहते हे। प्रोटोन,न्युट्रोन और ईलेक्ट्रोन ये एक परमाणु का ही भाग हे। जिसमे प्रोटोन घनात्मक आवेश (Positive charge) इलेक्ट्रॉन ऋणात्मक आवेश (Negative charge)और न्युट्रोन में किसी भी प्रकार का चार्ज नहीं होता हे।

परमाणु के केन्द्र में प्रोटोन और न्यूट्रॉन होते हे। जबकि इलेक्ट्रॉन परमाणु के ऑरबिट में चारो तरफ चक्कर लगाते हे। जिनमे से कुछ इलेक्ट्रॉन्स को आसानी से अलग किया जा सकता है। अलग किये गए इलेक्ट्रॉन्स को ही मुक्त इलेक्ट्रॉन्स कहते है। इन्ही मुक्त इलेक्ट्रॉन्स के कारण ही Conductor में विधुत धारा(Ampere)बहती है। जिसे इलेक्ट्रिसिटी कहते हे।

इलेक्ट्रिसिटी में Voltage, Current, Resistance, Power Factor जैसे पैरामीटर और मोटर, ट्रांसफार्मर, Generator, MCB, MPCB, ACB, RCCB जैसे उपकरण का रोल महत्व का होता हे।

Importance of Electricity in Hindi

Importance of Electricity in Hindi
Importance of Electricity

यदि हम सिंपल तरीके से समजे तो इलेक्ट्रिसिटी वो एनर्जी हे जो फैन में यूज़ किया जाये तो हमें हवा मिलती हे,हीटर में यूज़ किया जाये तो तो हमें गर्मी मिलती हे। एयर कंडीशनर में यूज़ किया जाये तो हमें कूलिंग मिलता हे। लाइट्स में यूज़ किया जाये तो तो हमें प्रकाश मिलता है।

हमारे जीवन की जरुरियातो को सुविधाओं के मुताबित हमारे सामने पेस होने वाली एनर्जी को हम इलेक्ट्रिसिटी कहते हे।   

सही में वो हमें नजर नहीं आती हम सिर्फ महसूस कर सकते हे। पर उससे होने वाली हर एक हरकत हमारे जीवन को बहेतरीन बना देती हे। और आज की चकाचोंद भरी दुनिया में हम बिना इलेक्ट्रिसिटी के जीवन की कल्पना नहीं कर सकते।

विधुत ऊर्जा का इस्तेमाल हम निम्न रूपों में करते है जैसे कि -प्रकाशीय ऊर्जा । उष्मीय ऊर्जा । चुम्बकीय ऊर्जा । ध्वनि ऊर्जा । यांत्रिक ऊर्जा । और रासायनिक ऊर्जा इत्यादि।

Type of Electricity
         
1-Static Electricity

2-Dynamic Electricity

What is Static Electricity?      स्टेटिक इलेक्ट्रिसिटी किसे कहते हे?
What is Static Electricity?      स्टेटिक इलेक्ट्रिसिटी किसे कहते हे?
Static Electricity

ये वो एनर्जी हे जिसे एक स्थान से दूसरे स्थान पे नहीं ले जा सकते उसे स्थीर विधुत भी कहते हे उसे उपयोग में नहीं लिया जा सकता। किसी दो चीजो को रगड़ ने से या घर्षण की बजेसे उत्पन्न होने वाली ये इलेक्ट्रिसिटी को स्टैटिक इलेक्ट्रिसिटी कहते हे।   

How to generate Static Electricity ?

1- बालो में कंगी करते वक्त उत्पन्न होने वाली एनर्जी ।

2- प्लास्टिक की चेयर के साथै टॉवल जाड़ने से उत्पन्न होने वाली एनर्जी।             

3- इंडस्ट्रीज में बड़े बड़े रिएक्टर और वेसल में मटेरियल घूमाते समय उसमे उत्पन्न होने वाले एनर्जी।

4- बादलो में चमक ने वाली बिजली भी स्टैटिक चार्ज से ही जेनेरेट होती हे।

इस तरह से उत्पन्न होने वाले एनर्जी किसी भी काम में नहीं आती पर वो बड़ा अकस्मात् का कारण बन सकती हे इसीलिए इंडस्ट्रीज में किसी भी इक्विपमेंट्स को अर्थिंग किया जाता हे। जिसे किसी भी तरह का इलेक्ट्रिकल चार्ज को डिस्चार्ज किया जा सके।

What is Dynamic Electricity?   डायनामिक इलेक्ट्रिसिटी किसे कहते हे ?
What is Dynamic Electricity?   डायनामिक इलेक्ट्रिसिटी किसे कहते हे ?
Dynamic Electricity

जी हा गतिशील इलेक्ट्रिसिटी ये वोही इलेक्ट्रिसिटी की बात हो रही हे जो हम और आप अपने डेली लाइफ में यूज करते हे। इस इलेक्ट्रिसिटी को हम एक स्थान से दूसरे स्थान पे ले जा सकते हे। जरुरत पड़ने पर हम up और down भी कर सकते हे। जिसका जनरेशन पावर प्लांट में होता हे।

1-Nuclear power station – परमाणु ऊर्जा स्टेशन

2-Thermal power station Gas,Coal, Diesel Base -थर्मल पावर स्टेशन, कोयला, गैस, डीजल बेस

3-Hydraulic Power station – जल विद्युत केंद्र

4-Solar power station – सौर ऊर्जा स्टेशन

5-Wind power station – पवन ऊर्जा स्टेशनn,

ये वो पावर स्टेशन हे जहा पे गतिशील इलेक्ट्रिसिटी का जनरेशन होता हे जीसे ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन से लोगो के घर तक पोहचाया जाता हे।

Electricity की भूमिका मानव जीवन को उन्नत करने में बहुत बड़ी हे। हमे Electricity का saving करना चाहिए।

विद्युत धारा क्या है? | Electric current in Hindi विद्युत धारा क्या है? | Electric current in Hindi Reviewed by Indrajeet Saini on July 19, 2020 Rating: 5

TikTok ऐप बंद, यूजर्स के पास वीडियो डाउनलोड करने का मौका, फॉलो करें ये टिप्स

June 30, 2020
अगर आप टिक-टॉक के पुराने यूजर्स हैं और आपके कई सारे पॉप्युलर वीडियो TikTok प्लेटफार्म पर मौजूद हैं तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है।
TikTok ऐप बंद, यूजर्स के पास वीडियो डाउनलोड करने का मौका, फॉलो करें ये टिप्स
भारत सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देकर Tiktok सहित 59 सोशल मीडिया ऐप को बैन कर दिया है। सरकार के ऐलान के बाद ऐप स्टोर से Tiktok को हटा दिया गया है। लेकिन अगर आप टिक-टॉक के पुराने यूजर्स हैं और आपके कई सारे पॉप्युलर वीडियो TikTok प्लेटफार्म पर मौजूद हैं, तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। यूजर्स के पास अपने वीडियो को डाउनलोड करके स्टोर करने का मौका है। इससे पहले की Tiktok ऐप पूरी तरह से इनएक्टिव हो जाएं, इससे पहले अपने डाटा को डाउनलोड कर लें। इसके लिए इन टिप्स को फॉलो करना होगा।

कैसे डाउनलोड करें Tiktok वीडियो

Tiktok के पुराने वीडियो को डाउनलोड करने को दो रास्ते हैं। इसका एक रास्ता मैन्युअल है, जिसमें आपको हर एक वीडियो को मैनुअली डाउनलोड करना होगा। दूसरी तरफ TikTok के वीडियो को डायरेक्ट डाउनलोड करने की रिक्वेस्ट भेज सकते हैं।

इन स्टेप्स को करें फॉलो

अपने फोन को टैप करके TikTok ऐप खोलें, और Profile पर विजिट करें। अगर एक बार वीडियो ओपन हो जाएं, तो तीन डॉट आइकन पर टैप करें। इसेक बाद Save वीडियो पर टैप करना होगा। ऐसे करे आप TikTok के वीडियो को अपनी डिवाइस में सेव कर सकते हैं। हालांकि इस प्रासेस में वीडियो पर Tiktok का वाटरमार्क आएगा। 

सीधे TikoTok ऐप से डिवाइस में सेव करें डाटा, Tiktok ओपन करने के बाद तीन डॉट आइकन पर टैप करें। इसके बाद Privacy and Safety ऑप्शन पर क्लिक करें, फिर Personalization and data पर क्लिक करे और फर Download your Data पर क्लिक करना होगा। अगली स्क्रीन पर आपको Request Data file पर टैप करना होगा। इसके बाद आप 30 दिनों के अंदर पुराने डाटा को डाउनलोड कर सकेंगे। मतलब डाटा रिक्वेस्ट प्रासेस में ज्यादा वक्त लगता है। रिक्वेस्ट प्रासेस के बाद डेटा डाउनलोड की फाइन 4 दिनों तक मौजूद रहती है। अगर इस दौरान फाइल को डाउनलोड नहीं किया गया, तो डाटा फाइल रद हो जाएगी।

TikTok ऐप बंद, यूजर्स के पास वीडियो डाउनलोड करने का मौका, फॉलो करें ये टिप्स TikTok ऐप बंद, यूजर्स के पास वीडियो डाउनलोड करने का मौका, फॉलो करें ये टिप्स Reviewed by Indrajeet Saini on June 30, 2020 Rating: 5

आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान में क्या-क्या खास, जानें 5 बड़ी बातें

June 26, 2020
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार सुबह यूपी में आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान (AATM NIRBHAR UP ROJGAR ABHIYAAN) की शुरुआत की। इस अभियान के तहत यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार प्रदेश में प्रवासी मजदूरों समेत करीब 1.25 करोड़ लोगों को रोजगार दिलाने का काम शुरू कराया गया है।
आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान में क्या-क्या खास, जानें 5 बड़ी बातें
पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार सुबह योगी सरकार के महत्वाकांक्षी प्रॉजेक्ट 'आत्मनिर्भर यूपी' रोजगार अभियान' की शुरुआत की। इस खास अभियान के तहत यूपी के 1.25 करोड़ लोगों को रोजगार मुहैया करवाया जाएगा।


घर लौटे प्रवासी मजदूरों के लिए योजना
आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान में क्या-क्या खास, जानें 5 बड़ी बातें
यूपी में 30 लाख से अधिक प्रवासियों की वापसी व लॉकडाउन के दौरान काम बंद होने से बेरोजगार हुए कामगारों के समायोजन के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने अफसरों से व्यापक कार्ययोजना बनाने को कहा था। योगी सरकार ने मनरेगा, एमएसएमई, ओडीओपी, निर्माण परियोजनाओं व ग्राम्य विकास से जुड़े विभिन्न कार्यक्रमों को केंद्रित कर 1.25 करोड़ लोगों के रोजगार का रास्ता तलाशा है। इसी योजना को अमलीजामा पहनाने की शुरुआत शुक्रवार से की जाएगी।

एमएसएमई इकाइयों को 9100 करोड़ रुपये का कर्ज
आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान में क्या-क्या खास, जानें 5 बड़ी बातें
पीएम इससे जुड़कर यूपी सरकार की हौसला अफजाई करेंगे साथ ही लखनऊ, सिद्धार्थनगर, गोंडा, बहराइच, गोरखपुर और जालौन के लाभार्थियों से संवाद करेंगे। कार्यक्रम में केंद्र के गरीब रोजगार कल्याण अभियान के साथ ही गरीब कल्याण पैकेज के तहत एमएसएमई इकाइयों को 9100 करोड़ रुपये का कर्ज दिया जाएगा। वहीं, स्किल मैपिंग में चिह्नित किए गए कामगारों में से 1.25 लाख को कपंनियां औपचारिक नियुक्ति पत्र देंगी।

यूपी के 31 जिले अभियान का हिस्सा
आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान में क्या-क्या खास, जानें 5 बड़ी बातें
गरीब कल्याण रोजगार अभियान में यूपी के 31 जिलों की 32,300 ग्राम पंचायतों को शामिल किया गया है। इन जिलों में सिद्धार्थनगर, प्रयागराज, गोंडा, महराजगंज, बहराइच, बलरामपुर, जौनपुर, हरदोई, आजमगढ़, बस्ती, गोरखपुर, सुलतानपुर, कुशीनगर, संतकबीरनगर, बांदा, अम्बेडकरनगर, सीतापुर, वाराणसी, गाजीपुर, प्रतापगढ़, रायबरेली, अयोध्या, देवरिया, अमेठी, लखीमपुर खीरी, उन्नाव, श्रावस्ती, फतेहपुर, मीरजापुर, जालौन और कौशाम्बी शामिल हैं।

1 दर्जन विभाग संभालेंगे अभियान की जिम्मेदारी
आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान में क्या-क्या खास, जानें 5 बड़ी बातें
अभियान के तहत 25 तरह के कार्यों को चिह्नित किया गया है, जिनमें प्रवासियों को समायोजित किया जाएगा। इसके लिए 1 दर्जन विभागों को जिम्मेदारी दी गई है। इनमें ग्राम्य विकास, पंचायती राज, सकड़ परिवहन, खनन, रेलवे, पेयजल व स्वच्छता, पर्यावरण व वन, पेट्रोलियम व नेचुरल गैस, वैकल्पिक ऊर्जा, रक्षा, टेली कम्युनिकेशन और कृषि विभाग शामिल हैं। केंद्र व प्रदेश दोनों ही आपस में समन्वय कर 31 जिलों में रोजगार अभियानों को गति देंगे।

ऐसी होगी कार्यक्रम की रूपरेखा
आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान में क्या-क्या खास, जानें 5 बड़ी बातें
1.25 करोड़ कामगारों के नियोजन की शुरुआत
2.40 लाख इकाइयों को आत्मनिर्भर भारत के तहत रु. 5900 करोड़ के कर्ज का वितरण
1.11 लाख नई इकाइयों को रु. 3226 करोड़ का ऋण वितरण
1.25 लाख कामगारों को निजी निर्माण कंपनियों से नियुक्ति पत्र
5000 कारीगरों को विश्वकर्मा श्रम सम्मान व ओडीओपी के तहत किट का वितरण
आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान में क्या-क्या खास, जानें 5 बड़ी बातें आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान में क्या-क्या खास, जानें 5 बड़ी बातें Reviewed by Indrajeet Saini on June 26, 2020 Rating: 5

UPMSP UP Board Result 2020 10वीं-12वीं के रिजल्ट कब आएंगे, कैसे करें चेक? जानिए डिटेल्स

June 26, 2020
यूपी बोर्ड रिजल्ट 2020, UP Board 10th 12th Result 2020 Live Updates: UP Board 10th 12th Result 2020: यूपी बोर्ड (उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद) 10वीं और 12वीं के रिजल्ट की घोषणा कुछ ही घंटों में कर सकता है. रिजल्ट की घोषणा के साथ ही परीक्षा देने वाले उत्तर प्रदेश के 56 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं का इंतजार भी खत्म हो जाएगा. आइए जानते हैं कैसे आसानी से चेक किया जा सकता है रिजल्ट.
UPMSP UP Board Result 2020 10वीं-12वीं के रिजल्ट कब आएंगे, कैसे करें चेक? जानिए डिटेल्स
यूपी बोर्ड रिजल्ट 2020, UP Board Result 2020, UP Board 10th 12th Result 2020 Updates

UP Board 10th 12th Result 2020: यूपी बोर्ड (उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद) 10वीं और 12वीं के रिजल्ट की घोषणा कुछ ही घंटों में कर सकता है. रिजल्ट की घोषणा के साथ ही परीक्षा देने वाले उत्तर प्रदेश के 56 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं का इंतजार भी खत्म हो जाएगा. रिजल्ट की घोषणा के बाद छात्र यूपी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट 'upmsp.nic.in' और 'upresults.nic.in' पर अपना रिजल्ट देख सकेंगे. जानकारी के मुताबिक यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं का रिजल्ट कल यानी शनिवार को घोषित कर सकता है.


कैसे चेक करें UP Board 10th 12th Result?

> सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट upresults.nic.in पर जाना होगा.

> इसके बाद आपको अपने क्लास का चयन कर उसके रिजल्ट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.

> 10वीं या 12वीं के रिजल्ट ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद अपना रोल नंबर डालना होगा.

> इसके बाद क्लिक करते ही आपको अपना रिजल्ट स्क्रीन पर दिख जाएगा.

> छात्र-छात्राएं चाहें तो रिजल्ट का प्रिंट ले सकते हैं.

किन वेबसाइट्स पर दिखेगा UP Board 10th 12th Result?

> www.upmsp.nic.in

> www.upresults.nic.in

> www.upmsp.edu.in

> www.upmspresults.up.nic.in

कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन की वजह से यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं के रिजल्ट में देरी हुई है. बता दें कि यूपी में 10वीं की परीक्षा 18 फरवरी से 3 मार्च 2020 के बीच हुई थी. वहीं, 12वीं की परीक्षा 18 फरवरी 2020 से 6 मार्च 2020 के बीच हुई थी. इस बार रिजल्ट के सामान्य रहने के आसार हैं.


बता दें कि यूपी बोर्ड में 10वीं क्लास में पास होने के लिए छात्र-छात्राओं को प्रत्येक विषय में कम से कम 33 फीसदी अंक प्राप्त करने होते हैं. इससे कम अंक आने पर छात्र-छात्राओं को एक और मौका मिलता है और उन्हें कंपार्टमेंट की परीक्षा देनी होती है. इस परीक्षा में पास होने पर छात्र-छात्राएं अगली क्साल में जाने के योग्य हो जाते हैं. यहां 12वीं क्लास में पास होने के लिए प्रत्येक विषय में कम से कम 35 फीसदी अंक लाना अनिवार्य है.

फरवरी से मार्च के बीच हुई इन परीक्षाओं में कुल 56,07,118 परीक्षार्थी शामिल हुए थे. इसमें 12वीं के 30,22,607 बच्चे और 10वीं के 25,84,511 बच्चे शामिल हैं. इन परीक्षाओं के लिए पूरे उत्तर प्रदेश में 7784 एग्जाम सेंटर्स बनाए गए थे. इनमें से संवेदनशील सेंटर्स की पहचान भी की गई थी, जिनकी संख्या करीब 975 थी.

साथ ही प्रदेश में 10वीं और 12वीं की परीक्षा के दौरान नकल पर लगाम लग सके इसके लिए सभी सेंटर्स पर सीसीटीवी से निगरानी की गई. एक रिपोर्ट के मुताबिक परीक्षाओं के दौरान पूरे यूपी में 19 लाख सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे. नकल न हो इसके लिए 1.88 लाख टीचर्स को भी एग्जाम हॉल में तैनात किया गया था. यूपी में 2019 में 10वीं में 80.08 फीसदी और 12वीं में 70.06 फीसदी बच्चे पास हुए थे.
UPMSP UP Board Result 2020 10वीं-12वीं के रिजल्ट कब आएंगे, कैसे करें चेक? जानिए डिटेल्स UPMSP UP Board Result 2020 10वीं-12वीं के रिजल्ट कब आएंगे, कैसे करें चेक? जानिए डिटेल्स Reviewed by Indrajeet Saini on June 26, 2020 Rating: 5

पतंजलि ने कोरोना की दवा 'Coronil और Swasari' लॉन्च की, सात दिनों में मरीजों के ठीक होने का दावा

June 23, 2020
Coronil and Swasari For COVID-19 Treatment: पतंजलि (Patanjali) का दावा है कि क्लीनिकल ट्रायल के दौरान 100 प्रतिशत नतीजे दिखाए पड़े हैं. पंतजलि का दावा है कि इससे सात दिन में 100 प्रतिशत कोरोना मरीज ठीक हुए हैं.
पतंजलि ने कोरोना की दवा 'Coronil और Swasari' लॉन्च की, सात दिनों में मरीजों के ठीक होने का दावा
Patanjali Coronavirus Kit: पतंजलि ने कोरोना की दवा Coronil और Swasari लॉन्च की
खास बातें
पतंजलि ने कोरोना की दवा बनाने का किया दावा
सात दिनों में 100 प्रतिशत कोरोना मरीज रिकवर हुए: रामदेव का दावा
कोरोना की दवा का नाम- Coronil और Swasari

Patanjali Launch Coronil and Swasari:  कोरोना (Corona) संकट के बीच पतंजलि (Patanjali) ने मंगलवार को कोरोना आयुर्वेदिक किट लॉन्च की. पतंजलि का कहना है कि क्लीनिकल ट्रायल के दौरान दवा के 100 प्रतिशत नतीजे दिखाए पड़े हैं. पतंजलि का दावा है कि इससे सात दिन में 100 प्रतिशत कोरोना मरीज ठीक हुए हैं. दवा का नाम कोरोनिल और श्वासरि (Coronil और Swasari) है. कंपनी की ओर से यह दावा ऐसे समय किया गया है जब पूरी दुनिया कोरोना संकट से जूझ रही है और कई देश वायरस की दवा विकसित करने में जुटे हैं.  


पतंजलि के संस्थापक योगगुरु रामदेव (Ramdev) ने कहा कि दवा का नाम 'कोरोनिल और श्वासरि' है. इसे देशभर में 280 मरीजों पर ट्रायल और रिसर्च करके विकसित किया गया है. COVID-19 के किसी भी वैकल्पिक इलाज का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है, यहां तक कि कई देशों द्वारा टीकों का परीक्षण किया जा रहा है. 

समाचार एजेंसी एएनआई ने रामदेव के हवाले से कहा, "पूरा देश और दुनिया कोरोना की दवा या टीके की प्रतिक्षा कर रहा है. हम पहली आयुर्वेदिक दवा की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है. पतंजलि रिसर्च सेंटर और निम्स यूनिवर्सिटी के संयुक्त प्रयासों इस आयुर्वेदिक मेडिसिन को तैयार किया गया है."

रामदेव ने दावा किया, "हम आज कोरोना की दवाएं Coronil and Swasari पेश कर रहे हैं. हमने इन दवाओं के दो ट्रायल किए हैं. पहला क्लीनिकल कंट्रोल स्टडी है, जो कि दिल्ली, अहमदाबाद और अन्य कई शहरों में किए गए हैं. इसमें हमने 280 मरीजों को शामिल किया और 100 प्रतिशत मरीज रिकवर हो गए. हम कोरोना और उसकी जटितलाओं को काबू करने में सक्षम रहे. इसके साथ सभी जरूरी क्लीनिकल कंट्रोल ट्रायल किए गए." उन्होंने कहा कि इस प्रोजेक्ट में जयपुर की निम्स यूनिवर्सिटी उनके साझेदार है.

रामदेव ने कहा, "नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (NIMS) जयपुर की मदद से 95 मरीजों पर क्लीनिकल कंट्रोल स्टडी की गई. सबसे बड़ी बात जो इसमें निकल कर आई वो यह है कि तीन दिन में 69 प्रतिशत मरीज रिकवर हुए और पॉज़िटिव से निगेटिव हो गए हैं और सात दिनों में 100 प्रतिशत मरीज निगेटिव हो गए." 

योगगुरु ने दावा किया कि मरीजों पर दवा का ट्रायल करने के लिए सभी जरूरी अनुमति संबंधित प्राधिकरणों या अधिकारियों से ली गई थी. 

वीडियो: पतंजलि ने लॉन्च की कोरोना किट
भारत में कोरोनावायरस महामारी के फैलाव पर नज़र रखें, और duniyajeet.com पर पाएं दुनियाभर से COVID-19 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें
पतंजलि ने कोरोना की दवा 'Coronil और Swasari' लॉन्च की, सात दिनों में मरीजों के ठीक होने का दावा पतंजलि ने कोरोना की दवा 'Coronil और Swasari' लॉन्च की, सात दिनों में मरीजों के ठीक होने का दावा Reviewed by Indrajeet Saini on June 23, 2020 Rating: 5

लॉकडाउन के इस दौर में ये Audio सुनकर आप भी हंसने लगोगे।

June 22, 2020
टेलीकॉलेर कस्टमर की मजेदार बातचीत
लॉकडाउन के इस दौर में ये Audio सुनकर आप भी हंसने लगोगे।

मंजिलें मिले न मिले, ये तो मुकद्दर की बात है,
हम कोशिश ही न करे ये तो गलत बात है।

ज़िन्दगी जब ज़ख्म पर दे ज़ख्म तो हँसकर हमें,
आजमाइश की हदों को आजमाना चाहिए।


अभी मुठ्ठी नहीं खोली है मैंने आसमां सुन ले,
तेरा बस वक़्त आया है मेरा तो दौर आएगा।
लॉकडाउन के इस दौर में ये Audio सुनकर आप भी हंसने लगोगे।

हुकूमत बाजुओं के ज़ोर पर तो कोई भी कर ले,
जो सबके दिल पे छा जाए उसे इंसान कहते हैं।

हम भी दरिया हैं हमें अपना हुनर मालूम है,
जिस तरफ़ भी चल पड़ेगे रास्ता हो जाएगा।

अगर आप को यह Audio अच्छी लगी हो आप अपने दोस्तों के साथ जरूर Share करें।
लॉकडाउन के इस दौर में ये Audio सुनकर आप भी हंसने लगोगे। लॉकडाउन के इस दौर में ये Audio सुनकर आप भी हंसने लगोगे। Reviewed by Indrajeet Saini on June 22, 2020 Rating: 5

क्या आप जानते हैं कि AC से पानी क्यों निकलता है?

June 22, 2020
आजकल AC का इस्तेमाल करना एक आम बात हो गई है. गर्मियों के मौसम में AC (Air Conditioner) का आनंद अधिकतर लोग उठाते हैं. जब AC चलता है तो आपने ध्यान दिया होगा कि उसमें से पानी निकलता है और ठंडक होती है. परन्तु क्या आपने कभी सोचा है कि AC से पानी क्यों निकलता है. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.
Air Conditioner
ये हम सब जानते हैं कि AC का मुख्य कार्य उस जगह को ठंडा करना होता है जहां वो लगा होता है और साथ में उस कमरे की humidity को भी कम करता है. यानी हम कह सकते है कि AC कमरे के अंदर के एनवायरनमेंट को काफी आरामदायक बनाता है.


क्या आप जानते हैं कि मानव शरीर का तापमान 36.5 डिग्री सेंटीग्रेड होता है.

AC से पानी क्यों निकलता है?

AC से पानी निकलने की प्रक्रिया को ऐसे समझा जा सकता है कि जब किसी ग्लास में ठंडा पानी भर कर रख देते हैं तो आपने देखा होगा कि ग्लास के ऊपर पानी की बूंदें जम जाती हैं और कुछ समय के बाद ये पानी में बदलकर ग्लास के नीचे इकठ्ठा हो जाती है. जब AC चलता है तो उसमें उत्पन्न गैस उसमें लगे पाइपों से गुजरती है और इन पाइपों के ऊपर पानी की बूँदें जमा हो जाती हैं. जब ये बूँदें बाहर के गर्म वातावरण के संपर्क में आती हैं तो पानी में बदल जाती हैं और यही पानी AC से बाहर निकलता है.

इसे ऐसे भी समझा जा सकता है:

प्रशीतन (refrigeration) के माध्यम से एयर कंडीशनर ठंडी हवा देता है. हम आपको बता दें कि एयर कंडीशनर (AC) के अंदर कॉइल्स (coils) के दो सेट होते हैं जो कि कंडेनसर (condenser) से जुड़े होते हैं. इन दो कॉइल्स में से एक कॉइल को गर्म रखा जाता है और दूसरे को ठंडा. कॉइल्स के अंदर के रसायनयों में बार-बार वाष्पीकरण और घुलनशील की प्रक्रिया होती है, जो कॉइल्स को ठंडा करने में मदद करती है. इसी के कारण AC से निकलने वाली हवा ठंडी हो जाती है.
क्या आप जानते हैं कि AC से पानी क्यों निकलता है?
जब हवा कॉइल्स पर संघनित (condense) होती है तो ये ठंडी कॉइल्स भी हवा से नमी को खींच लेती हैं और पानी लाती हैं. ठीक उसी प्रकार से जिस तरह से सोडा की ठंडे कैन पर घुलनशील हवा पक्षों पर नमी पैदा करती है.

इनमें से कुछ पानी फिर से वाष्पित हो जाता है और कॉइल्स को ठंडा रखने में मदद करता है. शेष पानी एयर कंडीशनर (AC) से बाहर निकल जाता है.

यदि आपका AC पानी का ज्यादा उत्पादन करता है तो समझिये की वह ठीक से काम कर रहा है और यदि पानी सही से नही निकल रहा है तो हो सकता है कि पानी कॉइल्स पर बर्फ के फॉर्म में जम रहा होगा.

कैसे पता चलता है कि AC लीक कर रहा है?

यदि आपके AC से पानी किसी और हिस्से से बाहर आता है तो समझ जाइये की AC सही से काम नही कर रहा है और पानी लीक कर रहा है.

ऐसा कब हो सकता है?

- AC के अंदर जितना पानी बनता है उतना अधिक से अधिक निकलना जरुरी होता है. जिस पाइप से पानी निकलता है वही मैली हो जाए या प्लगड हो तो पानी उसी के अंदर इकट्ठा हो जाएगा. इसके परिणामस्वरूप AC के अन्य क्षेत्रों से लीक जैसी समस्याएं हो सकती हैं.

- जब एक एयर कंडीशनर के अंदर बहुत अधिक पानी इकट्ठा हो जाता है, तो उसके अंदर लगे हुए फेन पानी को ठंडी कॉइल्स पर फेकते हैं जिससे कॉइल के ऊपर बर्फ जमने लगती है और AC को काफी प्रभावित कर सकती है. जब आप इस प्रभावित AC को बंद कर देते हैं तो अंदर की हवा गर्म हो जाती है और बर्फ को पिघला देती है. इससे पानी AC से लीक करने लगता है.

- जिस खिड़की में AC लगा है, वो सही से सील्ड या AC के आस-पास की जगह सही से पैक नही है तो बाहर की गर्म हवा घर में घुस सकती है. जबकि आप यह नहीं देख पाते हैं और आपका AC चल रहा होता है. बाहर की गर्म हवा AC के अंदर की ठंडी हवा कंडीशनर और घनत्व को प्रभावित करती है जिससे हवा से आर्द्रता को खीचने में ज़ोर लगता है और AC ड्रिप हो जाता है. यदि यह आपके साथ होता है, तो गर्म हवा को बाहर रखने के लिए अपनी खिड़की अच्छे से सील करें.

तो अब आप समझ गए होंगे कि AC से कैसे पानी निकलता है, यह कैसे काम करता है और AC किन कारणों से लीक हो सकता है.

क्या आप जानते हैं कि AC से पानी क्यों निकलता है? क्या आप जानते हैं कि AC से पानी क्यों निकलता है? Reviewed by Indrajeet Saini on June 22, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.